पाकिस्तानी कलाकारों पर बोलने का हक नसीर साहब को कौन देता है?



Vipul Rege
Vipul Rege

ऐसा नहीं लग रहा कि देशव्यापी विरोध के बावजूद नसीरुद्दीन शाह अपनी बयानबाज़ी रोक देंगे। आज राजदीप सरदेसाई से लाइव बातचीत में उन्होंने एक नया विवाद खड़ा कर दिया। आज उन्होंने कहा कि जब भारत अपनी फिल्मों को पैसा कमाने के लिए पाकिस्तान भेजता है तो उनके कलाकारों के काम करने का यहाँ क्यों विरोध किया जाता है।  ये आशंका पहले ही व्यक्त कर दी गई थी कि नसीरुद्दीन शाह वामपंथी ब्रिगेड के हाथ खेल रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि वे इस तरह का प्रपंच फैलाते रहेंगे।

आज राजदीप सरदेसाई से लाइव बातचीत में नसीर जमकर भड़के। ऐसा लगा कि उन्हें अपने गैर जिम्मेदाराना बयान पर कोई पछतावा नहीं है। राजदीप सरदेसाई ने नसीर का इंटरव्यू क्यों किया जबकि मीडिया को जिम्मेदारी निभाते हुए इस मुद्दे का यही अंत कर देना था। साफ़ है कि मीडिया इस ज्वलंत मुद्दे को जल्दी हाथ से जाने देना नहीं चाहता। राजदीप ने जानबूझकर नसीर से विवादास्पद सवाल पूछे और ‘आजतक’ ने उनके बयानों को ब्रेकिंग न्यूज़ की तरह चलाया।

अनुपम खेर ने कहा था ‘देश में इतनी आजादी है कि सेना को अपशब्द कहे जा सकते हैं। सैनिकों पर पथराव किया जा सकता है। इस देश से और कितनी आजादी चाहिए।  अनुपम खेर के बयान पर नसीर ने कहा, ”सच हमेशा रिलेटिव होता है। मुझे नहीं पता अनुपम के बयान का क्या मतलब था। विराट कोहली के बारे में आज उन्होंने फिर से ‘बदतमीज़’ शब्द का प्रयोग किया। पुरे इंटरव्यू में उन्होंने एक बार भी स्वीकार नहीं किया कि उनका बयान गलत था।

दरअसल ये इंटरव्यू वामपंथी ब्रिगेड की चुनौती है। जिस तरह से वे नसीर को फिर से लड़ाई के मैदान में ले आए हैं, साफ़ जाहिर है कि वे अपने छुपे हुए आकाओं के लिए ऐसी ही बयानबाज़ी करते रहेंगे। राजदीप सरदेसाई ने तो  इंटरव्यू के आखिर में कह भी दिया की ‘नसीर साहब आप ऐसे ही बोलते रहे।’

पाकिस्तानी कलाकारों पर बोलने का हक नसीर साहब को कौन देता है। उनको देश के माहौल और ऊँगली उठाने का अधिकार कौन देता है। विराट को बद्तमीज़ कहने का हक उनको कौन देता है। निश्चित ही देश में हर व्यक्ति को इतनी स्वतंत्रता है कि वह देश के माहौल के बारे में बेझिझक टिप्पणी कर सकता है। नसीर को तो देश में पाकिस्तान प्रेम प्रदर्शित करने का पूरा अधिकार ये देश देता है। फिर भी नसीर क्यों इंटरव्यू पर इंटरव्यू दिए जा रहे हैं। साफ़ है अपनी इमेज अपने ही हाथों हलाल करने का दुःसाहस कोई मुफ्त में तो करेगा नहीं।

URL: What I said was accurately reported. naseerudin shah told to India today

Keywords: Naseeruddin Shah, Anupam Kher, India Today, Rajdeep sardesai, live


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

Vipul Rege
Vipul Rege
पत्रकार/ लेखक/ फिल्म समीक्षक पिछले पंद्रह साल से पत्रकारिता और लेखन के क्षेत्र में सक्रिय। दैनिक भास्कर, नईदुनिया, पत्रिका, स्वदेश में बतौर पत्रकार सेवाएं दी। सामाजिक सरोकार के अभियानों को अंजाम दिया। पर्यावरण और पानी के लिए रचनात्मक कार्य किए। सन 2007 से फिल्म समीक्षक के रूप में भी सेवाएं दी है। वर्तमान में पुस्तक लेखन, फिल्म समीक्षक और सोशल मीडिया लेखक के रूप में सक्रिय हैं।