मोदी सरकार के चार साल: भ्रष्टाचार से लेकर आंतकवाद तक करारी चोट!

आज एनडीए सरकार के चार साल पूरे होने पर खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओडिशा के कटक से पूरे देशवासियों को अपनी सरकार के काम-काज का लेखा जोखा प्रस्तुत करने वाले हैं। कोई सरकार जनता का विश्वास तभी जीत पाती है जब वह अपने वादे के मुताबिक जनता के सामने आती रहती है। और इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कोई सानी नहीं है। साल 2014 में हुए आम चुनाव के दौरान मोदी ने देशवासियों से कहा था कि वह हर साल सरकार की किये गए कार्यों की पाई-पाई का हिसाब देंगे। इस मामले में मोदी ने हर साल जनता के समक्ष जहां अपनी सरकार के काम काज का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया वहीं पारदर्शी तरीके से देश से लेकर विदेश तक के हर मोर्चे का ब्योरा दिया है। इस मामले में अगर कहें कि मोदी सरकार का कोई सानी नहीं तो कोई अतिशयोक्ति नहीं।

मुख्य बिंदु

* हर साल की तरह इस साल भी जहां सरकार की ओर से मोदी ने पेश किया लेखा-जोखा वहीं पार्टी स्तर पर अमित शाह ने संभाला मोर्चा
* इस चार सालों में हर मोर्चे पर मोदी सरकार ने जताई अपनी मौजूदगी, भ्रष्टाचार से लेकर आंतकवाद तक पर की है करारी चोट

एक तरफ सरकार की ओर से स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश की जनता को अपना रिपोर्ट कार्ड पेश करने वाले हैं वहीं पार्टी की ओर से राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मोर्चा संभाल रखा है। वे आज दिल्ली में संवाददाता सम्मेलन के माध्यम से एनडीए सरकार की सफलता और उपलब्धियों के बारे में बताएंगे। सरकार के चार साल पूरे होने पर मोदी सरकार के कैबिनेट मंत्री भी अपने-अपने मंत्रालयों और विभागों की उपलब्धियों के साथ काम-काज का ब्योरा देंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह ही अपने माइक्रो सोशल साइट ट्वीटर के माध्यम से केंद्र सरकार के सफर की शुरुआत के बारे में ट्वीट करते हुए लिखा कि “हमने भारत के बदलाव के सफर की शुरुआत 2014 में आज के ही दिन की थी। विगत चार सालों में विकास जन आंदोलन बन गया है। देश का हर नागरिक इसमें अपनी साझेदारी महसूस कर रहा है सवा सौ करोड़ भारतीय देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने में जुटे हैं।”

Twitter Ads info and privacy

केंद्र में मोदी सरकार के चार साल पूरे हो चुके हैं। इन सालों में सरकार ने सभी मोर्चों पर अपना दायित्व बखूबी निभाया है। कई मोर्चों पर जहां काफी परेशानियां अभी तक उठानी पड़ रही है वही कई मोर्चों पर सरकार ने बेमिसाल सफलता पाई है। आम लोगों को जीवन स्तर उठाने में सरकार सफल रही है, वहीं भ्रष्टाचार से अभी भी लड़ रही है। देश की रक्षा का मोर्चा हो या आंतरिक सुरक्षा का, संचार का मसला हो या कौशल विकास का, बिजली का मोर्चा हो या गरीबों को रोजगार उपलब्ध कराने का, सरकार ने हर मोर्चे पर अपनी मौजदूगी दर्ज कराने में सफलता पाई है। ये बात दीगर है कि कुछ में ज्यादा सफलता मिली है तो कुछ में कम। मोदी सरकार ने देश में ही बल्कि वैश्विक मंच पर भी देश का मान बढ़ाया है।

सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं लगने दिया

कांग्रेस सरकार के अंतिम साल तक भ्रष्टाचार एक अहम मुद्दा बनता रहा है, लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार पर अभी तक एक भी भ्रष्टाचार का दाग नहीं लगा है। इस सरकार ने जितनी चोट भ्रष्टाचार के खिलाफ की है इससे पहले किसी सरकार ने ऐसी चोट नहीं की थी। यह मोदी सरकार है कि लाख परेशानियों के बाद भी नोटबंदी के फैसले को लागू कर दिखाया। नकली नोट पकड़े जाने की चर्चा जितनी पहले होती है, नोटबंदी के बाद तो नकली नोटों की चर्चा पूरी तरह से बंद हो गई है।

अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी संगठन ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की रिपोर्ट की मानें तो भ्रष्टाचार के क्षेत्र में भारत की स्थिति सुधरी है। ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की ग्लोबल करप्शन परसेप्शन इंडेक्स-2017 के अनुसार 180 देशों की सूची में भ्रष्टाचार के मामले में भारत 81वें पायदान पर है।

सालों से धूल फांक रहा बेनामी कानून को अमल में लाया

नोटबंदी पर विपक्ष की तीखी आलोचना से अडिग रही मोदी सरकार ने दूसरी चोट बेनामी संपत्ति पर की। यह कानून सालों से धूल फांक रहा था लेकिन मोदी सरकार ने बेनामी कानू को लागू ही नहीं किया बल्कि इसे अमल में भी लाया। मोदी सरकार ने ही विदेश से कालाधन वापस लाने की साफ नीयत से अपनी पहली कैबिनेट बैठक में एसआईटी गठित करने का फैसला किया है। मोदी सरकार ने हाल ही में इनसॉलवेंसी और बैंक्रप्टसी कोड में संशोधन कर उन कंपनियों का होश उड़ा दिया है जो दिवालिया घोषित होकर मजा मार रही थी। ये मोदी के कदम का ही कमाल है कि बैंको का डूबा 83,000 करोड़ रुपये वापस आ चुका है।

वैश्विक मानचित्र पर बढ़ाया देश का मान

भारत को वैश्विक मानचित्र पर जो स्थान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिलाया है इससे पहले किसी और नहीं दिला पाया। वह चाहे पाकिस्तान को विश्व राजनिति से अलग करने का हो या फिर इंटरनेशनल कोर्ट में भारत की साख बढ़ाने का हो। इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र में स्थायी सदस्यता मुहिम को तेज करना हो या एनएसजी समूह में शामिल होना हो। हर मोर्चे पर देश का डंका बजता दिख रहा है। मोदी की कूटनीति का ही असर है कि पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने स्वीकार किया है कि मुंबई बम विस्फोट में पाकिस्तान का हाथ था।

बिजली और गैस पहुंचाकर जीता गरीबों का दिल

मोदी सरकार ने देश के गरीबों का जीवनस्तर ऊपर उठाने को लेकर भी बहुत जबरदस्त काम किया है। मोदी ने देश के उन 18,500 गांवों बिजली पहुंचा कर सदियों से अंधेरे में जीने को मजबूर लाखों लोगों को विकास की गति से जोड़ने का काम कर दिखाया है। लागों गरीब महिलाओं को गैस देकर उनके जीवन को सुखद बनाने का काम किया है। मोदी को दोनों महत्वाकांक्षी योजनाएं दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना और उज्ज्वला योजना गरीबों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने में महत्वपूर्ण साबित हुई हैं।

सर्जिकल स्ट्राइक से पाक और आतंकी दोनों को सिखाया पाठ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक कर एक साथ ही पाकिस्तान और आतंकवादियों को बता दिया कि भारत अब और बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने बता दिया कि अपनी सीमा की सुरक्षा के लिए अब भारत सीमाओं के पार भी जा सकता है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद ही पाकिस्तान थोड़ा संभल गया है। वैसे भी सेना ने जिस गोपनीय तरीके से मोदी की सर्जिकल स्ट्राइक की योजना को अंजाम दिया उसे देखकर पाकिस्तान आज तक भौचक्का है। हालांकि पाकिस्तान को सबक सिखाने से पहले ही भारतीय सेना ने म्यांमार में सर्जिकल स्ट्राइक का नमूना दिखा दिया था। इसलिए बाह्य सुरक्षा के मोर्चे पर मोदी सरकार ने अभी तक सराहनीय काम किया है।

मोदी सरकार से सम्बंधित अन्य खबरों के लिए नीचे पढें:

1-मोदी सरकार के चार साल: दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना से हर घर रोशन!

2- मोदी सरकार के चार साल: दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना से हर घर रोशन!

3- मोदी सरकार के चार साल: सात महीने में 39.36 लाख नई नौकरियां लोगों को मिली!

4- मोदी सरकार के चार साल: सक्षम और सशक्त भारत की ओर…

5- मोदी सरकार के चार साल: कांग्रेस की बैंक लूट पर पीएम मोदी पर हमला करने वालों यह तो जान लो कि इस सरकार ने डिफॉल्टर कंपनियों से बैंकों को 83 हजार करोड़ रुपये दिलवाए हैं!

URL: Analysis of four years of Modi government work

Keywords: four years of modi government, welfare schemes by modi government, welfare schemes by NDA, prime minister narendra modi, PM Modi, narendra modi, NDA Indian economy, India GDP, Indian economic growth, मोदी सरकार, मोदी सरकार के चार साल

आदरणीय पाठकगण,

ज्ञान अनमोल हैं, परंतु उसे आप तक पहुंचाने में लगने वाले समय, शोध और श्रम का मू्ल्य है। आप मात्र 100₹/माह Subscription Fee देकर इस ज्ञान-यज्ञ में भागीदार बन सकते हैं! धन्यवाद!  

 
* Subscription payments are only supported on Mastercard and Visa Credit Cards.

For International members, send PayPal payment to [email protected] or click below

Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Branch: GR.FL, DCM Building 16, Barakhamba Road, New Delhi- 110001
SWIFT CODE (BIC) : HDFCINBB
Paytm/UPI/Google Pay/ पे / Pay Zap/AmazonPay के लिए - 9312665127
WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9540911078

You may also like...

Write a Comment

ताजा खबर