क्या जुकरबर्ग ‘डेटिंग एप’ को दे पायेंगे सुरक्षा जब उन्होंने अपने ही घर में ही डाटा चोर बिठा रखे हैं ?



Posted On: May 4, 2018 in Category:
Facebook New Dating App
Manisha Pandey
Manisha Pandey

‘डेटिंग फीचर’ लाकर फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग फेसबुक में कुछ तब्दीली और फेसबुक यूजर्स की लाइफ में नया स्पार्क लाने की फ़िराक़ में हैं वो एक ऐसा डेटिंग एप ला रहे हैं जिससे लोग अपने सच्चे प्यार की तलाश कर सकेंगे! मार्क ज़ुकरबर्ग ने कहा “इस समय में 20 करोड़ लोगों ने स्वयं को फेसबुक पर सिंगल लिस्ट किया है, स्पष्ट है कि निश्चित तौर पर यहाँ कुछ नया किया जा सकता है, हमने लम्बे समय तक चलने वाले रिश्तों को ध्यान में रख कर यह फीचर तैयार किया गया है यह सर्विस ऑप्शनल होगी जो बहुत जल्द लॉन्च किया जाएगा।”

एक ओर फेसबुक डेटिंग एप को लाने की तैयारी में है, वही फेसबुक के घर के अंदर की कहानी कुछ और ही है! मेरा मतलब फेसबुक के ऑफिशल टीम के इंजीनयर को एक महिला का ऑन लाइन (stalking) पीछा करने के जुर्म में नौकरी से बाहर निकाल दिया गया है! साइबर सिक्योरिटी कंसल्टेंसी स्पाइग्लास सेक्योरिटी के संस्थापक जैकी स्टोक्स के ट्वीट से ये आरोप सामने आए हैं। स्टोक्स ने कहा कि “उन्हें पता चला है कि फेसबुक में काम कर रहा एक सिक्योरिटी इंजीनियर महिलाओं का ऑनलाइन पीछा(stalking) करने के लिए अपने अधिकार का गलत इस्तेमाल कर रहा है।” फेसबुक, डाटा चोरी होने के मामले में पहले ही सवालों के घेरे में है ऊपर से महिला के ऑनलाइन पीछा करने के नए मामले ने इस डेटिंग एप की विश्वसनीयता पर सवाल तो खड़े होंगे ही!

सोचने वाली बात ये हैं कि जब फेसबुक के अपने घर में ही ऐसे हैकर मौजूद हो तो डाटा सिक्योरिटी और वो भी डेटिंग एप के लिए कितना सुरक्षित होगी! मार्क जुकरबर्ग के मुताबिक डेटिंग सुविधा उपयोगकर्ताओं के दोस्तों को इसकी जानकारी नहीं देगी जो फेसबुक के डेटा पर निर्भर अन्य डेटिंग ऐप्स है, उदाहरण के लिए टिंडर। एक तरफ फेसबुक डाटा माइनिंग की जांच के घेरे में है तथा बीते महीनो में उसे भारी आर्थिक हानियों से भी गुजर पड़ा है! कही इस तरह की डेटिंग एप लांच करना हुए नुकसान की भरपाई करने की कोशिश तो नहीं! यदि इस एप को महिलाओं की नज़र से देखें तो उनकी उनकी सुरक्षा और निजता की सुरक्षा पर भी पर भी कई सवाल उठते हैं! जब फेसबुक का ही सिक्योरिटी इंजिनियर खुद एक महिला के पर्सनल डाटा से खिलवाड़ करता हो !

दूसरी और जहाँ मानव संवेदनाएं टेक्नोलॉजी की भेट चढ़ती हुई अपना अस्तित्व खो रही है वहां ‘वर्चुअल वर्ड ‘के जाल की अजब दुनिया में फेसबुक की डेटिंग साइट कितनी असली या कितनी नकली? या यों कहा जाए कि किस हद तक नुकसानदायक होगी इसका अंदाजा लगाना आज के यूजर के लिए एक बड़ा प्रश्न है!

URL: facebook all set to introduce new dating app like tinder

Keywords: facebook, facebook new dating app, dating feature at facebook, new dating app like tinder, dating feature, stalking, tinder, mark zuckerberg,


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !