सिद्धू के सिर से संकट हटा नहीं, पंजाब के 18 मंत्रियों ने खोल रखा है मोर्चा

अपने ऊपर गहराते संकट को देखते हुए कांग्रेस नेता तथा पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू भले ही पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को अपना पिता तुल्य बता दिया हो लेकिन उनके सिर से अभी संकट टला नहीं है। लगता है यह संकट उनका टलने वाला भी नहीं है। क्योंकि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की आलोचना करने को लेकर उनके मंत्रिमंडल के 18 मंत्रियों ने सिद्धू के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। मंत्रियों में सिद्धू के प्रति गुस्सा का अंदाजा प्रदेश के वन मंत्री साधु सिंह धरमसोत के बयान से लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा है “ऐसा लगता है कि सिद्धू साहिब भूल गए हैं कि वह मंत्री हैं। उन्हें समझना चाहिए कि वह यहां कोई कॉमिडी शो नहीं कर रहे। उन्हें बड़ों का सम्मान करना सीखना चाहिए और मुख्यमंत्री से माफी मांगनी चाहिए।”

मुख्य बिंदु

* पंजाब कैबिनेट की बैठक में सिद्धू की गैरमौजूदगी में नहीं हुई उन पर कोई चर्चा

* कैप्टन को पिता तुल्य बता कर अपनी पुरानी करतूत से बच नहीं सकते हैं सिद्धू

* मंत्रियों के गुस्से से लगाया जा सकता है सिद्धू के संकट की गंभीरता का अंदाजा

राजस्थान चुनाव को देखते हुए भले ही आज की कैबिनेट की बैठक में कैप्टन के इशारे पर किसी ने सिद्धू के खिलाफ कुछ नहीं बोला हो, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि सिद्धू से संकट टल गया है। पंजाब में जिस प्रकार सिद्धू राहुल गांधी के इशारे पर अपने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का अपमान किया है, उसका खामियाजा तो उन्हें भुगतना पड़ेगा। इसका संकेत भी दिखने लगा है, क्योंकि कई मंत्रियों ने तो यहां तक कहा है कि जब तक इस मामले में सिद्धू सार्वजनिक रूप से कैंप्टन से हाथ जोड़कर माफी नहीं मांगते तब तक कुछ नहीं हो सकता है।

वैसे भी सिद्धू के खिलाफ कैप्टन की आलोचना का ही मामला नहीं है। उनके खिलाफ अमृतसर में रावण दहण के दौरान हुए हादसे के मुख्य आरोपी मिठू मदान के साथ साठगांठ भी एक अहम मुद्दा बना हुआ है। हाल ही में मिठू मदान के साथ सार्वजनिक रूप देखे जाने के कारण भी सिद्धू की काफी आलोचना हुई थी। सिद्धू के खिलाफ कई मामले एक साथ सामने आ गए हैं। अगर ऐसे में कैप्टन सरकार के लिए सिद्धू को एक भार कहना कतई अनुचित नहीं होगा। सरकार की बदनामी के मूल्य पर कैप्टन भी चाहकर सिद्धू को नहीं ढोना चाहेंगे।

कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को अपना ‘कैप्‍टन’ बताकर सीएम अमरिंदर सिंह पर तंज कसने के मामले में नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ राज्य के 18 मंत्रियों ने मोर्चा खोल दिया है। पंजाब के इन मंत्रियों की मांग है कि सिद्धू सीएम से माफी मांगें।

मालूम हो कि हैदराबाद में सिद्धू ने यह कहकर अपने ही मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का मजाक उड़ाया था कि उनका असली कैप्टन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी है। उनके कहने पर ही पाकिस्तान गया था। राहुल गांधी मेरे ही क्या वे तो पंजाब के कैप्टन यानि अमरिंदर सिंह के भी कप्तान हैं।

मंगलवार को पंजाब कैबिनेट की हुई बैठक में भले ही उनपर कोई चर्चा नहीं हुई हो लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि मामला सुलझ गया है। क्योंकि सिद्धू ने पहली बार ही नहीं बल्कि बार-बार कैप्टन के खिलाफ आवाज बुलंद करते रहे हैं।

URL : many ministers of Punjab open a front against Sidhu

Keyword : Sidhu row in punjab, anger against sidhu, captain Amrinder singh, सिद्धू पर संकट, सिधु के खिलाफ गुस्सा , कैप्टन अमरिंदर सिंह

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs. या अधिक डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  

For International members, send PayPal payment to [email protected] or click below

Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Branch: GR.FL, DCM Building 16, Barakhamba Road, New Delhi- 110001
SWIFT CODE (BIC) : HDFCINBB
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबर