निधि राजदान जैसी पत्रकार अधूरी जानकारी देकर फैला रहे हैं फेक न्यूज ताकि कांग्रेस को फायदा मिल सके!



Nidhi-Razdan (File Photo)
ISD Bureau
ISD Bureau

जब स्वधन्यमान पत्रकार ही अपने आकाओं को लाभ पहुंचाने के लिए पाठकों और श्रोताओं से खबर छिपाने लगे तो समझ जाइये कि वह पूरी पत्रकारिता को नष्ट करने पर तुल गए हैं। ऐसा नहीं है कि उन्हें जानकारी नहीं होती, वे जानबूझकर पूरी जानकारी नहीं देते, वह आधी अधूरी जानकारी देकर दरअसल अपने असली मालिक को लाभ पहुंचाना चाहते हैं। वैसे तो ऐसे पत्रकारों की आज के समय में कमी नहीं हैं लेकिन ताजा मामला एनडीटीवी की पत्रकार निधि राजदान से जुड़ा है। दरअसल उसने ही सीबीआई को लेकर गुवाहाटी हाईकोर्ट के एक फैसले की आधी अधूरी जानकारी देकर कांग्रेस को लाभ पहुचाने का खेल किया है।

मुख्य बिंदु

* सीबीआई को लेकर गुवाहाटी हाईकोर्ट के एक जज के फैसले के बारे में तो मनीत तिवारी के बयान के रूप में दिखाया

* लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने अगले ही दिन उस फैसले पर रोक लगा दी इसके बारे में बताया ही नहीं

निधि राजदान ने यह ट्वीट अज्ञानतावश नहीं किया है बल्कि उसके इस ट्वीट से कांग्रेस को लाभ होगा इसलिए किया है। उसने लिखा है कि कांग्रेस के मनीष तिवारी ने उसके एक शो में कहा है कि गुवाहाटी हाईकोर्ट के एक जज ने अपने एक फैसले में सीबीआई को अवैध बताया था, लेकिन आज तक उसके उलट कोई फैसला नहीं आया है। ऐसा इसलिए कहा गया है ताकि कांग्रेस के इस प्रोपगेंडा को और आगे फैलाया जाए कि भाजपा सीबीआई को नष्ट करने पर तुली है।

जबकि सच्चाई यह नहीं है, सच्चाई यह है जिसे वरिष्ट पत्रकार गोपीकृष्ण ने ट्वीट कर निधि राजदान को भी बता दिया है। दरअसल उस फैसले के दूसरे ही दिन सुप्रीम कोर्ट ने जज के फैसले पर रोक लगा दी थी। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा है कि जस्टिस काटजू तथा कर्नन जैसे ही किसी जज ने इस प्रकार के पागलपंती वाला फैसला दिया होगा जो अपनी एलएलबी कक्षा के दौरान शोले फिल्म देखने चले गए होंगे।

ध्यान रहे कि निधि राजदान जैसे पत्रकार अपने आका कांग्रेस के प्रोपगेंडा अभियान फैलाने का हिस्सा भर हैं। इसलिए उन्होंने वही बात लिखी और वही बात उतनी ही उठाई जितनी कांग्रेस को सूट कर सके।

URL: Journalists like Nidhi Razadan are spreading Fake News by incomplete information

Keywords: Nidhi Rajdan, Fake news, journalist spreading fake news, CBI, Congress, media congress nexus, निधि राजदान, फेक न्यूज़, सीबीआई, फेक न्यूज़ मेकर, कांग्रेस, मीडिया कांग्रेस नेक्सस,


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.