Watch ISD Live Now   Listen to ISD Podcast

Author: ISD News Network

0

वसंत पंचमी कथा!

वसंत पंचमी कथा! सरस्वति महाभागे विद्ये कमललोचने ।विद्यारूपे विशालाक्षि विद्यां देहि नमोस्तुते ॥ सृष्टि के प्रारंभिक काल में भगवान विष्णु की आज्ञा से ब्रह्माजी ने मनुष्य योनि की रचना की, परंतु वह अपनी सर्जना...

0

करें यह सरस्वती वंदना, होगा कल्याण!

विकास थपलियाल। सरस्वती वंदना ॐ रवि-रुद्र-पितामह-विष्णु-नुतं, हरि-चन्दन-कुंकुम-पंक-युतम्!मुनि-वृन्द-गजेन्द्र-समान-युतं, तव नौमि सरस्वति! पाद-युगम्।।१शशि-शुद्ध-सुधा-हिम-धाम-युतं, शरदम्बर-बिम्ब-समान-करम्।बहु-रत्न-मनोहर-कान्ति-युतं, तव नौमि सरस्वति! पाद-युगम्।।२कनकाब्ज-विभूषित-भीति-युतं, भव-भाव-विभावित-भिन्न-पदम्।प्रभु-चित्त-समाहित-साधु-पदं, तव नौमि सरस्वति! पाद-युगम्।।३मति-हीन-जनाश्रय-पादमिदं, सकलागम-भाषित-भिन्न-पदम्।परि-पूरित-विश्वमनेक-भवं, तव नौमि सरस्वति! पाद-युगम्।।४सुर-मौलि-मणि-द्युति-शुभ्र-करं, विषयादि-महा-भय-वर्ण-हरम्।निज-कान्ति-विलेपित-चन्द्र-शिवं, तव नौमि सरस्वति! पाद-युगम्।।५भव-सागर-मज्जन-भीति-नुतं, प्रति-पादित-सन्तति-कारमिदम्।विमलादिक-शुद्ध-विशुद्ध-पदं, तव नौमि...

0

वर्ण व्यवस्था : अद्भुत सामाजिक, राजनैतिक और आर्थिक व्यवस्था है।

श्री शारदा सर्वज्ञ पीठम यह पर्यावरण के लिए भी उपयुक्त है और मानव के लिए भी। वर्ण व्यवस्था छिन्न भिन्न करके ही औद्योगिकरण आया, अगर वर्ण व्यवस्था न छिन्न भिन्न हुई होती तो क्या...

0

एक संघी का संदेश संदीप देव के नाम!

राम राम संदीप जी, डॉक्टर होने के नाते और राष्ट्रवादी हिंदू होने के नाते मैं बड़े मन से nmo का सदस्य बना था, nmo का नाम आपने सुना ही होगा, संघ का ही अनुसांगिक...

0

चन्द्रचूड़ की नियुक्ति और हिन्दी पर दिये दिल्ली उच्च न्यायालय के असंवैधानिक फैसले के खिलाफ जन्तर- मन्तर पर प्रदर्शन।

नई दिल्ली, ग्राम उदय फाउन्डेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री संजीव कुमार तिवारी के नेतृत्व में सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश श्री धनंजय यशवन्त चन्द्रचूड़ की नियुक्ति में संविधान के अनुच्छेद 124.2 का पालन नहीं...

0

सनातन और खालसा का अलगाव दोनों के लिए विनाशकारी होगा- महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी

हर हर महादेव और सतश्री अकाल के जयघोष से गुंजा शिवशक्ति धाम डासना आज 23 जनवरी 2023 को शिवशक्ति धाम डासना में इतिहास पुनः जीवन्त हुआ, वर्तमान को एक नया आयाम मिला, भविष्य की...

0

तुलसीदास की आलोचना होती है तो संत कबीर का क्यों नहीं ??

श्री शारदा सर्वज्ञ पीठम नारी भारतीय सभ्यता की आधार स्तम्भ हैं। और भारतवर्ष में प्राचीन काल से नारियों की पूजा और प्रतिष्ठा की जाती है। लेकिन जिसकी पूजा और प्रतिष्ठा होती है उसकी कुछ...

0

टीकाकरण के दूरगामी परिणाम

कमाण्डर नरेश कुमार मिश्रा ( टीकाकरण के दूरगामी परिणाम ) पिछले एक साल में हार्ट अटैक के केस बहुत तेजी से बढ़े हैं। ऐसा देखा गया है कि अधिकांश लोग जिनका हार्ट अटैक हुआ...

0

हम ले के रहेगें आज़ादी

सारा कुमारी। (हम ले के रहेगें आज़ादी) एक बहुत ही मशहूर कहावत है, खुद को स्वतंत्र करने की इच्छा हो तो सबसे पहले कोई एक्शन नहीं लेना होता हैं, वरन मन में केवल एक...

0

Pakistan COVID connection

Sara Kumari: In a new revealation, Biden whistleblower explained,  how the Bidens conducted energy deals with the highest levels of the Chinese and Russian governments while Joe Biden was Vice President. The Biden whistleblower...

0

अच्छी सरकार जरूरी है (भाग-5)

अच्छी सरकार जरूरी है धर्म-भक्ति की बात ही छोड़ो ,  देश-भक्ति भी नहीं बची है ; अब्बासी – हिंदू  का  शासन ,  संसाधन  की  लूट  मची है । जजिया के धन को बढ़ा रहा...

0

सुबह का भूला शाम को लौटे

सुबह का भूला शाम को लौटे हिंदू ने सदा ही सब कुछ खोया , गंदी-राजनीति के कारण ; गंदी – राजनीति  भारत  की ,  अब्बासी – हिंदू  के कारण । गांधी   से   प्रारंभ   हुई  ...

0

जंगलराज हटाना है

जंगलराज   हटाना   है ,  कानून   का  शासन   पाना  है ; कैसे आये कानून का शासन ?  अच्छी सरकार बनाना है । मजहब की जितनी कमियां हैं ,  दूर सभी कानून से होंगी ; और...

0

बागेश्वर धाम सरकार को चेतावनी देती गौरव चौहान की कविता।

कवि गौरव चौहान। मची खलबली,मचा बवंडर,धर्महीन शैतानो में,बागेश्वर सरकार हमारे गूंज रहे हैं कानों में, हुआ सनातन शंखनाद,तुम उलझे रहो पहेली में,रामचरित अवधी में था,अब गरजा है बुंदेली में, ना तो धन से अर्जित...

0

धन्यवाद “संदीप-देव” को

धन्यवाद “संदीप-देव” को “राष्ट्रीय समलैंगिक संघ” ,   दुराचार   जिसका   आधार ; जिनकी शादी न हो सकती ,  आपस में  करते  व्यभिचार । या  तो  कोई  सन्यासी  होवे ,  या  ब्रह्मचर्य का  व्रत  होवे ;...

0

मोहन भागवत देखें कि समलैंगिक अपने गोद लिए बच्चों को भी नहीं छोड़ते!

रुपेश वर्मा। मोहन भागवत और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सभी लोग देखे कैसे एक समलैंगिक कपल अपने गोद लिए बच्चे का बलात्कार और यौन शोषण करते है। इसी प्रकार संघ के प्रदीप जोशी अपने...

ताजा खबर