Watch ISD Live Now   Listen to ISD Podcast

Category: पुस्तकें

0

मेधा देशमुख भास्करन की पुस्तक ‘संभाजी महाराज:शिवाजी महाराज के सुपुत्र की शौर्यगाथा’ संभाजी महाराज के शौर्य और पराक्रम की यशोगाथा का एक अनुपम प्रस्तुतिकरण है

पुस्तक: संभाजी महाराज:शिवाजी महाराज के सुपुत्र की शौर्यगाथालेखिक: मेधा देशमुख भास्करनप्रकाशक: प्रभात पेपरबैक्सपृष्ठ: 448मूल्य: 600 रुपये (प्रिंट) जो लोग और समाज अपना इतिहास विस्मृत कर देते हैं उनका भूगोल बदल जाता है। जब भी...

0

‘कास्ट इज नॉट हिन्दू’ (Caste is not Hindu) पुस्तक संदर्भों सहित सिद्ध करती है कि ‘कास्ट सिस्टम’भारतीय परिकल्पना नही है बल्कि उपनिवेशवादी लुटेरों की साजिश है

पुस्तक का नाम: कास्ट इज नॉट हिन्दू (Caste is not Hindu) लेखक: गुरूजी सुंदर राज अनंत, अक्षया सिमरहेन राज, प्रदीप कुमार कुकरेजाप्रकाशक: नोशन प्रेसपृष्ठ: 148मूल्य: 390 (प्रिंट) इतिहास में झाँककर देखे तो पता चलता...

0

भारतवर्ष के आक्रांताओं की कलंक कथाएं

पुस्तक का नाम: भारतवर्ष के आक्रांताओं की कलंक कथाएं लेखक: मेजर (डॉ.) परशुराम गुप्त प्रकाशक: प्रभात प्रकाशनपृष्ठ: 176मूल्य : रू. 250 (प्रिंट) साहित्य का मनुष्य जीवन में बड़ा महत्व है। यह बात अब जाकर...

0

महामहिम राष्ट्रपति को जयशंकर प्रसाद पर केंद्रित पुस्तक की प्रथम प्रति भेंट

मुंबई विश्वविद्यालय के वरिष्ठ प्रोफेसर करुणाशंकर उपाध्याय ने अपना सद्य: प्रकाशित ग्रंथ जयशंकर प्रसाद महानता के आयाम की प्रथम प्रति भारत गणराज्य के माननीय राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू जी को भेंट की। इस अवसर पर...

0

पूर्वोत्तर में हिंदुओं के संहार को सामने रखती है यह पुस्तक

मेघालय में हिंदू न सिर्फ अल्पसंख्यक हो चुके हैं, बल्कि उन पर वहां जुल्म भी बहुत हो रहा है। उनसे उनके अंतिम संस्कार तक का अधिकार छीन लिया गया है, महिलाओं के साथ नृशंस...

0

आलोक की दूसरी किताब “एक रंगकर्मी की यात्रा” का हुआ लोकार्पन

दिल्ली, वरिष्ठ रंगकर्मी,लेखक और पत्रकार आलोक शुक्ला के तीन दशकीय रंगमंच और बॉलीवुड के संस्मरणों की किताब “एक रंगकर्मी की यात्रा”,का लोकार्पण बीती शाम 15th ग्लोबल फ़िल्म फेस्टिवल नोएडा में मारवाह इंस्टीट्यूट के चेयरमैन...

0

सुझाव- यदि यह पुस्तक हाथ लगे तो तुरत हथिया लेना

Shanti Amoli Binjola नरत्वं दुर्लभं लोके विद्या तत्र सुदुर्लभा कवित्वं दुर्लभं तत्र शक्तिस्त्रत्र सुदुर्लभा उपनिषद की कहावत है कि मनुष्य जीवन इस लोक में बहुत दुर्लभ है, उससे भी दुर्लभ विद्यावान हो जाना ,...

0

राकेश शुक्ला की पुस्तक ‘दिल्ली में हिन्दू राजवंश का स्वर्णिम काल’ तथाकथित दिल्ली सल्तनत के झूठ का पर्दाफ़ाश करने की ओर एक महत्वपूर्ण कदम है

एक छोटी से पुस्तक हाथ लगी जिसका शीर्षक है ‘दिल्ली में हिन्दू राजवंश का स्वर्णिम काल’, इसके लेखक है दर्शनम् के संस्थापक राकेश शुक्ला। राकेश जी ट्वीट दिन भर ट्विटर पर धमाल मचाते रहते...

0

अंशुल पांडे की पुस्तक “द ऑथेंटिक कंसेप्ट ऑफ शिव” भगवान शिव को लेकर प्रमाणिक जानकारी से ‘गागर में सागर’ भरने का उत्कृष्ट प्रयास है

पुस्तक का नाम: द ऑथेंटिक कंसेप्ट ऑफ शिव लेखक: अंशुल पांडेय प्रकाशक: गरुड़ प्रकाशन मूल्य: 499 (प्रिंट) मुंबई का नाम जैसे ही सुनते हैं तो मस्तिष्क में क्या आता है? सपनों की नगरी! बॉलीवुड,...

0

मैं धर्म के लिए जीता हूं, धंधे के लिए नहीं!

संदीप देव । काफी लेखक व प्रकाशक मुझे पुस्तकें भेजते हैं ताकि मैं न केवल उसका रिव्यू करूं, बल्कि उसे www.kapot.in पर भी उपलब्ध कराऊं। मैं सारी पुस्तकें पहले पढ़ता हूं और जिसमें सनातन...

0

प्रो. रामेश्वर मिश्र ‘पंकज’ की पुस्तक ‘सच्चे मोमिनों का हक़ छीनते बनावटी मुसलमान: एक अराजक चुनौती’ वैचारिक युद्ध में ब्रह्मास्त्र के समान है

पुस्तक का नाम: सच्चे मोमिनों का हक़ छीनते ‘बनावटी मुसलमान’: एक अराजक चुनौतीलेखक: प्रो रामेश्वर मिश्र ‘पंकज’प्रकाशक: सेंटर फॉर सिविलाइजेशनल स्टडी सेंटर, दिल्लीपृष्ठ: 283मूल्य: 399 (प्रिंट) मैं जब यूनिवर्सिटी में अध्ययनरत था तब एक...

0

कंवर खटाना की ‘द गेम बिहाइंड सैफ्रन टेरर’ पुस्तक भगवा आतंकवाद साज़िश का परत दर परत पर्दाफाश करती है

पुस्तक: ‘द गेम बिहाइंड सैफ्रन टेरर’ लेखक: कंवर खटाना प्रकाशक: क्रियेटिव क्रोज पब्लिशर्स पृष्ठ: 349 मूल्य: 690 प्रिंट (पेपर बैक)   अंग्रेजी भाषा में एक पुस्तक हाथ लगी, जिसका शीर्षक है,’द गेम बिहाइंड सैफ्रन टेरर‘।...

0

भारत के विरुद्ध चल रहे ग्लोबल वार को एक्सपोज करती है राजीव मल्होत्रा की Snakes in the Ganga !

राजीव मल्होत्रा की Snakes in the Ganga को हर भारतीय को पढ़ना चाहिए ताकि उसे पता चले कि उसके विरुद्ध किस तरह का ग्लोबल वार चल रहा है, जिसका केंद्र US का Harvard university...

0

ए नेवर एंडिंग कॉन्फ्लिक्ट: एपिसोड्स फ्रॉम इंडिक रेसिस्टेन्स

पुस्तक का नाम: ए नेवर एंडिंग कॉन्फ्लिक्ट: एपिसोड्स फ्रॉम इंडिक रेसिस्टेन्सलेखक: अमित अग्रवालप्रकाशक: गरुड़ प्रकाशनपृष्ठ: 428मूल्य: 599 (प्रिंट) ट्वीट की गति से चलने वाले इस युग में पिछले कुछ वर्षों से इतिहास लेखन के...

0

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ: क्या, क्यों, कैसे?

पुस्तक का नाम: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ: क्या, क्यों, कैसे? लेखक: विजय कुमार प्रकाशक: प्रभात प्रकाशनपृष्ठ: 184मूल्य: 250 (प्रिंट) भारत देश की एक विडंबना है कि यहाँ भारत विरोधी चीजें बहुत तीव्र गति से फैलती...

0

किसी समाज या राष्ट्र में व्यक्ति का आचार-विचार उसके राजा (शासक) से प्रेरित होता है।

राजा का यह दायित्व है कि वह दंड नीति आदि के द्वारा समाज के समक्ष आदर्श प्रस्तुत करे ताकि एक आदर्शात्मक राज्य की स्थापना हो सके। राजा यदि अराजकतावादियों पर कार्रवाई नहीं करता तो...

0

‘लव जिहाद’और सांस्कृतिक नरसंहार

संसार को जीनोसाइड (सामुदायिक नरसंहार) जैसा शब्द देने वाले और संयुक्त राष्ट्र में जीनोसाइड के क़ानून लागू करवाने के लिए असाधारण संघर्ष करने वाले पोलिश वकील रेफेल लेम्किन ने सांस्कृतिक नरसंहार पर विशेष बल...

0

‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स फ्रॉम एन ओप्प्रेसिव एरा’ पुस्तक इस्लामिक आक्रांताओं के ‘काले युग’ का काला चिट्ठा है।

पुस्तक का नाम : ‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स फ्रॉम एन ओप्प्रेसिव एरा’ लेखक: डॉ चांदनी सेनगुप्ता भाषा : अंग्रेजी प्रकाशक: गरुड़ प्रकाशन पृष्ठ: 227 मूल्य : 299 (प्रिंट) क्या आपने ‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स...

0

मानोशी सिन्हा रावल की ‘सैफ्रॉन स्वोर्ड्स : 52 एपिसोड्स ऑफ़ सनातनी वेलोर अगेंस्ट इनवेडर्स’ पुस्तक भारतीय इतिहास के साथ हुए खिलवाड़ को सुधारने का एक उत्कृष्ट प्रयास है।

पुस्तक का नाम: सैफ्रॉन स्वोर्ड्स : 52 एपिसोड्स ऑफ़ सनातनी वेलोर अगेंस्ट इनवेडर्स‘ लेखिका: मानोशी सिन्हा रावल प्रकाशक: गरुड़ प्रकाशन पृष्ठ : 404 भाषा: अंग्रेजी मूल्य: 499 (प्रिंट) यदि मैं पूछूं कुर्मा देवी कौन...

0

आत्महीनता के शिकार हिंदुओं के लिए 1882 में पंजाब में भारतीय शिक्षा को लेकर सर्वे करने वाले एक ब्रिटिश ICS अधिकारी जी.डब्ल्यू.लेटनर का एक विश्लेषण

भारत में बड़ी अच्छी विकेंद्रित शिक्षा व्यवस्था है। लगभग प्रत्येक गांव की अपनी पाठशाला है, जो गांव वाले चलाते हैं। इन पाठशालाओं को जमीन आवंटित है, जिनकी आमदनी से पाठशाला का खर्च निकलता है।...

ताजा खबर