Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Author: Sandeep Deo

0

श्वेताश्वर उपनिषद के शांति पाठ में हर सनातनी की उन्नति का मंत्र है!

श्वेताश्वतर, मेरे घर के इस नाम में उपनिषद का ज्ञान भी है और मेरी भार्या श्वेता का नाम भी। श्वेताश्वतर एक ऋषि थे, जिनकी अध्यक्षता में अरण्य में एक धर्म सभा का आयोजन किया...

0

जंतर मंतर के आंदोलन में भाग लेने मेरे समस्तीपुर से स्वामी नरेशानंद जी आए थे।

Sandeep Deo. मैं गृहस्थ हूं, अतः मैंने उनके रुकने का प्रबंध यति नरसिंहानंद जी के डासना मंदिर में करवाया था। कल हरे टिड्डों के एक समूह ने मंदिर में घुसकरर सोए हुए नरेशानंद जी...

0

कोई इस देश को मजहबी आरक्षण की आग से बचाओ!

Sandeep Deo. संविधान निर्माताओं ने रिलीजन के आधार पर आरक्षण का सख्त विरोध किया था। राज्य सरकारों ने OBC की आड़ में मुस्लिम-ईसाई आरक्षण की बाढ़ इस देश में ला रखी है। पश्चिम बंगाल...

0

लगता है RSS हिंदू धर्म को अब्राहमिक बनाकर ही मानेगा!

Sandeep Deo. वसीम रिजवी ने कुरान की करीब दो दर्जन आयतों को हटाने की बात की तो RSS का संस्कार भारती मनु स्मृति को दलित और महिला विरोधी बताकर उसमें संशोधन की बात कर...

1

भगवान जगन्नाथ पर आक्रमण कर आर्य समाजियों ने यह दर्शा दिया कि सनातन एकता में इन जैसों की जड़ता सबसे बड़ी बाधा है।

Sandeep Deo. कल भगवान श्रीजगन्नाथ यात्रा का आरंभ हुआ। इससे जुड़ी एक कथा मैंने कही, जो सिर्फ भक्त हृदय ही समझ सकता है, शुष्क ‘एक किताबी’ मजहब या पंथ के बूते की बात नहीं...

0

पुराण श्रृंखला-2 पुराणों का स्पष्ट उल्लेख अथर्ववेद के मंत्रों में है।

पुराण प्राचीनता में वेद के समकक्ष हैं। अज्ञानता और अंग्रेजों के प्रभाव के कारण कुछ वर्ग इसे 2000 साल पुराना बता देते हैं, जबकि सच यह है कि शुंग और गुप्त काल में अन्य...

3

आज से पुराणों को लेकर छोटे-छोटे पोस्ट की एक श्रृंखला आरंभ कर रहा हूं। पुराण श्रृंखला-1

पुराणों में देव कथाओं के साथ हमारा इतिहास भी वर्णित है, जिसके कारण इसे नष्ट कर दिया गया ताकि हिंदुओं और हिंदुस्तान पर शासन करना आसान हो जाए। बिना इतिहास के समाज की क्या...

1

2015 में संदीप देव द्वारा लिखा गया यह लेख आज पुनः हो रहा है वायरल !

Sandeep Deo. इतिहास का कड़वा सच: हिंदुत्‍व व राष्‍ट्रवाद की पैरोकार पार्टी के सहयोग से हुआ था अल्‍पसंख्‍यक आयोग का गठन! (बलराम मधोक की आत्‍मकथा ‘जिंदगी का सफर, भाग-3 से द्वारा संदीप देव) आपको...

0

संघियों को महात्मा गांधी होने की बीमारी लगी है!

Sandeep Deo. महात्मा गांधी अली बंधुओं के मंच पर जब गये तो हिंदुओं को खूब कोसा। परिणाम, मोपलाओं ने मालाबार में हिंदुओं का विनाश कर दिया। अलि बंधुओं की नजर में गांधी कभी उनके...

0

काश सनातन धर्म का जरा भी ज्ञान होता मोहन भागवत जी को!

आज एक ख्वाजा साहब के पुस्तक विमोचन में संघ प्रमुख मोहन भागवत पर जमकर सेक्यूलर रंग चढ़ा रहा। गौ तस्करों की जगह गौ रक्षकों को नसीहत देने की पुरानी संघी बीमारी इन्होंने भी व्यक्त...

0

#FakeNews के कारण गौतम अडाणी को 40 हजार करोड़ की चपत! चीनी एजेंट संदेह के घेरे में!

ईकोनोमिक टाइम्स (TOI ग्रुप) की #FakeNews पत्रकार सुचेता दलाल का #FakeTweet और डॉ सुब्रमण्यम स्वामी का पीएम मोदी पर हमला करते हुए अडाणी के विरुद्ध ED जांच की संभावनाओं पर आधारित Tweet ने गौतम...

0

वो एक अखलाक पर आसमान उठा लेते हैं, तुम असंख्य हिंदुओं की मौत और पलायन पर भी चुप रहते हो!

यह भाजपा की महिला कार्यकर्ता का बंगाल में हाल है। फोटो कल की है। मकुल राय तो डर के मारे ममता के पास चले गये, जो हिंदू भाजपा कार्यकर्ता और वोटर हैं वह आखिर...

2

योगी आदित्यनाथ के प्रति भाजपा नेतृत्व की उदासीनता आखिर क्यों?

राजनीति और कूटनीति में संकेतों का बड़ा महत्व है! बिना कहे संकेतों से बड़ी-बड़ी बातें कह दी जाती है। संकेतों का पूरा मनोविज्ञान है राजनीति में। इन्हीं संकेतों को तो समझ कर हिमंता विस्वशर्मा...

2

मेरे लिए एक-एक हिंदू जान अमूल्य है।

चलो आज मैं आपको अपना एक संस्मरण सुनाता हूं। यह 2014 का जनवरी-फरवरी महीना था। चुनाव का शोर था। मेरी पुस्तक ‘साजिश की कहनी तथ्यों की जुबानी’ आ चुकी थी। इसमें एक अध्याय केजरीवाल...

0

बंगाल में कार्यकर्ताओं की गिरती लाश और वातानुकूलित कमरे में भाजपा का ‘फाइव स्टार धरना!’

कुछ अंधे कहते हैं कि मुस्लिम ओवैसी पर सवाल नहीं उठाते, कांग्रेसी-कम्युनिस्ट अपनी पार्टी पर सवाल नहीं उठाते। केवल हिंदू भाजपा पर सवाल उठाते है! तो सुनो, ओवैसी एक मुस्लिम की मौत पर हैदराबाद...

0

सोशल मीडिया के दौर में ‘फेक पत्रकारिता‘ हो रहा है बेनकाब!

संदीप देव। गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2021 की सुबह से ही किसानों का प्रदर्शन उग्र होता जा रहा था। दिल्ली पुलिस ने जगह-जगह बैरिकेटिंग कर रखी थी। दिल्ली के डीडीयू मार्ग पर एक तथाकथित...

0

बंगालियों का अभिजात्य व्यवहार ही है उनका दुश्मन!

BHU में जब 1994 मुझे प्रवेश मिला तो मैं बहुत खुश था। जनेऊ में पंडित जी पूछते हैं, बऊआ पढ़े कहां जायब? उत्तर भी वही बताते हैं, ‘काशी।’ काशी पढ़ने का मेरा सपना साकार...

0

आप अपने परिवार के लिए महत्वपूर्ण हैं, सोशल मीडिया के लिए नहीं!

टीवी न्यूज पर जिस तरह रात-दिन नकारात्मक खबर आती है, वही हाल अब सोशल मीडिया का है। फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्वीटर आदि खोलिए बस- किसी की मृत्यु का पोस्ट, मैं पोजीटिव हो गया, मैं अस्पताल...

0

अब तो आम आदमी पार्टी के सबसे वरिष्ठ विधायक ने भी कह दिया कि दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगाओ!

अब तो आम आदमी पार्टी के विधायक शोएब इकबाल ने भी कह दिया कि “दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगाओ। दिल्ली के हाल पर रोना आ रहा है। अस्पतालों में न आक्सीजन सिलेंडर है, न...

0

आज के अखबारों में जारी इस ‘केजरी-रिश्वत’ को गौर से देखिए, इसका निष्कर्ष कुछ इस तरह है:-

1) इस ‘केजरी-रिश्वत’ से हाईकोर्ट के अंदर का सच सामने आ गया कि केंद्र ऑक्सीजन लिए बैठा रहा और केजरीवाल सरकार ने उसे लाने के लिए टैंकर नहीं भेजा। इस विज्ञापन से अनजाने ही,...

ताजा खबर
The Latest