Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Category: स्वस्थ्य भारत

0

सरकारी वैक्सीन और असहाय जनता…!

विगत एक वर्ष से वैक्सीन कोरोना के लिये रामबाण बनकर अवतरित हुई है। ऐसा प्रतीत होने लगा है कि यदि वैक्सीन नहीं ली तो जीवनलीला समाप्त हो जायेगी, यही कारण है कि जनकल्याण में...

1

कोरोना और वैक्सीन एक ही सिक्के के दो पहलू – जाने कैसे?

पूरे विश्व में चर्चा है कि कोरोना और वैक्सीन दोनों पर रिसर्च का काम कई दशकों से चल रहा है। इस बात के अमिट साक्ष्य मौजूद हैं। हो सकता है इसमें शत्-प्रतिशत सच्चाई ना...

0

मास्क के तीन लाभ -“दो गज दूरी मास्क है ज़रूरी”

जब से कोरोना की शुरुआत हुई है लोगों ने अनायास बिना किसी आदेश के फ़ैशन में मास्क पहनना शुरू कर दिया था। मुझे यह बात इसलिये याद है कि 12 मार्च को मैं बेन्गलुरू...

0

महामारी का कोहराम अभी थमा नहीं ! क्या इसका कोई परमानेन्ट सल्यूशन है ?

दोस्तों, महामारी का कोहराम अभी थमा नहीं है। हमें उतना ही पता चलता है जितना बताया जा रहा है। इस महामारी से बचने का एक ही उपाय है- “मज़बूत इम्यूनिटी”। कोई भी दवा, थिरैपी...

0

यदि आपके पास कोई उपाय नहीं है तो अपने बच्चों को तीसरी वेव से बचाने के लिये सिरप प्रिवेन्टिका अपनायें।

यदि आपके पास कोई उपाय नहीं है तो अपने बच्चों को तीसरी वेव से बचाने के लिये सिरप प्रिवेन्टिका अपनायें। यह पूरी तरह से नेचुरल है और कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है। ध्यान रहे...

1

पतंजलि द्वारा आई. एम. ए. और फार्मा कंपनियों को खुला पत्र!

Chitransh Saxena. पतंजलि योगपीठ के संस्थापक स्वामी रामदेव और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के मध्य 3 दिनों से चले आ रहे विवाद पर जब कल स्वामी रामदेव ने 25 सवालों का जवाब मांगा तो आज...

0

फार्मा उद्योग की काली दुनिया उतरी आयुर्वेद के विरुद्ध!

जयप्रकाश सिंह। जिन्हें लगता है कि बाबारामदेव और IMA के बीच चल रहा संघर्ष केवल आयुर्वेद बनाम एलोपैथ का संघर्ष है, उन्हें प्रोफेसर पीटर सी गोत्जसे की किताब Deadly Medicine and Organized Crime एक...

0

स्टेरॉयेड की देन – ब्लैक और व्हाइट फ़ंगस!

पिछले कुछ दिनों में मीडिया और मॉडर्न मेडिसिन ने मिलकर ब्लैक और व्हाइट फ़ंगस नामक एक नई महामारी को जन्म दे दिया है। मीडिया मॉन्गरिंग और बेबुनियाद बयानों और इन्टरव्यू की ताक़त ने ब्लैक...

2

आयुर्वेद को हर कदम पर अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा जाता है।

अयोध्या प्रसाद। आयुर्वेद को हर कदम पर अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा जाता है। लेकिन एलोपैथी को सौ गलतियाँ माफ। ये एक फैक्ट है, या सिर्फ मेरे दिमाग का भ्रम कहना मुश्किल है।...

0

ड्रग माफिया बनाम अल्टीमेट सुपर साइन्स आयुर्वेद!

स्वाभिमानी राकेश। 16वी शताब्दी के गैलीलियो की कहानी लगता है हम 400 साल पहले का जीवन जी रहे हैं इतिहास खुद को दोहरा रहा है- जहां रोमन साम्राज्य था एक देश है जहां से...

0

मॉडर्न मेडिसिन सिस्टम के युग पुरुष पद्मश्री डॉ के के अग्रवाल की मृत्यु से मॉडर्न स्वास्थ्य प्रणाली के अंत की शुरुआत है।

पद्मश्री डॉ के के अग्रवाल का निधन किसी व्यक्ति का निधन नहीं बल्कि मॉडर्न स्वास्थ्य प्रणाली के अंत की शुरुआत है। डॉ अग्रवाल वास्तविक रूप से डॉक्टर थे, यही कारण है कि कोरोना से...

0

मुझे भीख चाहिए!

कमलेश कमल। प्लाज्मा की बात करें, तो यह सच नहीं है कि मेरी टीम अधिक लोगों की मदद कर पा रही है। सच्चाई यह है कि प्रतिदिन अगर 500 लोग हमसे प्लाज्मा माँगते हैं,...

1

सावधान! यह पैन्डेमिक या प्लैन्डेमिक नहीं बल्कि तीसरा विश्व युद्ध है

एलबर्ट आइंस्टाइन हमेशा कहते थे कि पता नहीं तीसरा विश्व युद्ध किन औज़ारों से से लड़ा जायेगा पर चौथा विश्व युद्ध डंडे एवं पत्थरों से लड़ा जायेगा। टेक्नॉलजी की रफ़्तार और औज़ारों की होड़...

0

COVID19 महामारी की दूसरी लहर का मुकाबला करने के लिए मोदी सरकार की आयुर्वेदिक पहल!

देश में कोविड-19 संक्रमण की दूसरी लहर का मजबूती से मुकाबला करने के लिए आयुष मंत्रालय आज से अपनी पॉली हर्बल औषधि आयुष-64 और काबासूरा कुडिनीर को कोविड-19 संक्रमित रोगियों (जो अस्पताल में भर्ती...

0

कोरोना को हराना आसान है पर तरीक़ा बदलना होगा

कोरोना से घबराइये नहीं। कोरोना से बचने के लिये सबसे अधिक सुरक्षित जगह आपका घर है क्योंकि अस्पताल के मुक़ाबले इनफ़ेक्शन बहुत कम है, शुद्ध ताज़ा स्वादिष्ट भोजन मिलेगा, आप अपनों के बीच होंगे,...

0

कोरोना_कॉमनसेंस

कमलेश कमल|जब जिंदगी और मौत के बीच चंद साँसों और कुछ पलों का फ़ासला हो; तो फालतू की सूचना नहीं देते। कम सूचना दें, लेकिन एकदम सही (verified) दें। स्वयं फोन नम्बर आदि चेक...

0

कोरोना से डरो ना

कोरोना काल को शुरू हुये लगभग 17 महीने हो गये। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार समूचे विश्व में अभी तक लगभग साढ़े चौदह करोड़ लोग कोरोना से संक्रमित हुये और तीस लाख लोगों की...

ताजा खबर