पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार, कोर्ट ने आरोपी के रूप में किया तलब!

मी-टू अभियान के तहत पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ पत्रकार एमजे अकबर पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी पर गिरफ्तारी की तलवार लटक गई है। इस आरोप के बाद एमजे अकबर ने उसके खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस दर्ज कराया था। इसी मामले में अब दिल्ली के पटियाला कोर्ट ने रमानी के खिलाफ समन जारी करते हुए उसे 25 फरवरी को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है। अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने अपने आदेश में आरोपों को साबित करने का दायित्व भी प्रिया रमानी पर डाल दिया है। इस आदेश के बाद अगर प्रिया रमानी कोर्ट में पेश नहीं होती है या फिर अपने आरोपों को साबित करने में विफल होती है तो उसकी गिरफ्तारी निश्चित है।

इस बारे में सीएनएन-18 के लिगल संपादक उत्कर्ष आनंद ने अपने ट्वीट में लिखा है कि एमजे अकबर द्वारा दायर आपराधिक मानहानि के मामले में दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने आरोपी के रूप में प्रिया रमानी को समन जारी कर 25 फरवरी तक कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया है। मालूम हो कि कुछ दिन पहले ही पत्रकार प्रिया रमानी ने मी-टू अभियान के तहत एमजे अकबर के खिलाफ यौन शोषण करने का आरोप लगाया था। रमानी के आरोप के कारण एमजे अकबर को केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट द्वारा जारी समन के बारे में उत्कर्ष आनंद का कहना है कि इस मामले में प्रिया रमानी को जो समन जारी किया है वह उसके लिए काफी भारी पड़ने वाला है। क्योंकि कोर्ट ने अपने समन में रमानी को एक आरोपी के रूप में तलब किया है। साथ ही उस पर अपने आरोपों को साबित करने का सारा बोझ भी डाल दिया है। कहने का मतलब अब रमानी को एमजे अकबर पर लगाए गए सारे आरोपों को साबित करना होगा। अगर वह ऐसा करने में सफल नहीं होती हैं तो उनकी गिरफ्तारी भी हो सकती है। इसलिए अब उन्हें गिरफ्तारी से बचने के लिए भी उपाय ढूंढने होंगे।

मालूम हो कि एमजे अकबर के खिलाफ 20 साल पहले यौन उत्पीड़न के आरोप लगने के बाद पिछले दिनों एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर की सदस्यता निलंबित कर दी थी। इस संदर्भ में बयान जारी कर कहा गया था कि अपनी कार्यकारी समिति से विचार विमर्श करने के बाद एडिटर गिल्ड ने अकबर पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों को देखते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई करने का फैसला लिया है।

URL : Delhi court issue summon to priya ramani on criminal defamation case!

keywords : Delhi court, criminal defamation, priya ramani, MJ Akbar

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  



Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127

ISD Bureau

ISD is a premier News portal with a difference.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

समाचार