पुश-अप में गिनीज बुक मे अपना नाम दर्ज कर रोहताश ने रचा इतिहास ;स्लिप डिस्क भी जिनका हौसला नहीं तोड़ सकी



Posted On: July 15, 2016
ISD Bureau
ISD Bureau

जिनके हौसलों में जान होती है अक्सर वही अपने निशान छोडते हैं इतिहास के पन्नों में. दिल्ली के रोहताश चौधरी भी नित नयी सफलताओं की इबारत लिख रहे हैं अभी हाल में ही एक मिनट में सर्वाधिक पुश-अप लगने का कीर्तिमान बनने वाले रोहताश ने योग दिवस के दिन एक और कीर्तिमान अपने और भारत के नाम लिखवा लिया.

खानपुर नई दिल्ली निवासी रोहताश चौधरी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पंतजलि योगपीठ न्यास द्वारा फरीदाबाद में आयोजित योग कार्यक्रम में लाखों लोगों की उपस्थिति में नया विश्व रिकॉर्ड बनाकर जहाँ भारत का सिर पुनः गर्व से ऊँचा किया वहीं अपना नाम गिनीज बुक मे दर्ज कराकर दिल्ली का नाम रौशन करते हुए विश्व पटल पर छा गया.

रोहताश ने अपनी पीठ पर 15 ईंट रखकर 1 मिनट में 51 पुश-अप लगाकर इस रिकॉर्ड को अपने नाम किया. इससे पहले यह रिकॉर्ड यूके के पेड्डी डोयले के नाम था. बाबा रामदेव की ट्रस्ट पंतजलि योगपीठ द्वारा आयोजित किया गए इस कार्यक्रम में स्वयं बाबा रामदेव, बालकृष्ण, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सहित लाखों लोग उपस्थित थे ! गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड की ओर से अधिकारी ऋषि नाथ द्वारा स्वयं सारे नियमों को जाँचा जा रहा था. इससे पहले भी रोहताश चौधरी पुश-अप क्षेत्र में कई रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं.

रोहताश चौधरी के रिकॉर्ड जानने के लिए इंडिया स्पीक्स डेली के इस लिंक पर जायें :
http://www.indiaspeaksdaily.com/bodybuilding-personalities-rohtash/

यहाँ पर यह बता देना जरूरी है की रोहताश चौधरी को स्लिप डिस्क के परेशानी है बावजूद इसके उन्होंने अपनी अदम्य इच्छाशक्ति और कुछ कर गुजरने के जुनून के सहारे इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर देश को गौरान्वित किया.उनकी इस उपलब्धि के लिए उनको शुभकामनायें.



राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.