Watch ISD Videos Now Listen to ISD Radio Now

अलका लाम्बा की अश्लील भाषा और अश्लील राजनीति

कहा जाता है कि राजनीति की डगर महिलाओं के लिए नहीं है, महिलाओं को यहाँ पर हर बात सहने के लिए आना चाहिए. यह बात काफी हद तक सच भी है.  यह सच है कि महिलाओं के लिए राजनीति कोई सरल चीज़ नहीं है और उन्हें बहुत हद तक खुद को बेशर्म बनाकर राजनीति के उस दलदल में उतरना चाहिए, जो बहुत बदनाम है. हाल ही में उत्तर प्रदेश की पूर्व में रह चुकी मुख्यमंत्री बहन मायावती ने जब कांग्रेस को उत्तर प्रदेश के मजदूरों की बुरी स्थिति के लिए जिम्मेदार ठहराया तो उन पर किस तरह की छींटाकशी हुई वह कांग्रेस के स्त्री विरोधी चरित्र को दिखाने के लिए पर्याप्त है.

यूं तो कांग्रेस में आने का मतलब ही स्त्री शोषण है, मगर फिर ऐसा लगता है कि कांग्रेस में स्त्री नेता कैसे बनी हुई हैं? क्या उनका मूल चरित्र भी दूसरों का चरित्र हनन करना है? या वह महज़ पब्लिसिटी के लिए ही इस तरह की हरकतें करती हैं. यह सवाल इसलिए खड़ा हुआ कि क्योंकि हाल ही में जिस तरह से भाजपा के नेताओं और विशेषकर प्रधानमंत्री जी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पर हो रहा है वह अपने आप में हैरान करने वाला है. दुर्भाग्य से यह सब उस कांग्रेस पार्टी में हो रहा है, जिस कांग्रेस पार्टी की अध्यक्षा भी स्त्री हैं और उत्तर प्रदेश का प्रभार भी महिला के ही पास है.

हाल ही में योगी आदित्यनाथ जी के दीक्षा पूर्व के नाम के साथ उन पर कई बार हमला किया गया, मगर प्रियंका गांधी मौन रहीं. अभी एक दो दिन पहले ही एक बहस के दौरान कांग्रेस की एक महिला प्रवक्ता योगी आदित्यनाथ को अजय बिष्ट कहकर पुकार रही थीं.  कांग्रेस में आकर स्त्रियों को इस कदर बदतमीज हो जाना होता है जिससे वह अपनी मैडम की कृपा पात्र बन सकें या फिर कुछ और बात है? अभी कुछ दिन पहले ही गौरव पंधी ने स्मृति ईरानी को सबसे बेवक़ूफ़ नेता कहा था.

खैर आज बात हो रही है अलका लाम्बा की, जी हाँ वही अलका लाम्बा जो पहले कांग्रेस में थीं, वहां से आम आदमी पार्टी में आईं और पिछले लोकसभा चुनावों के दौरान एक बार फिर से कांग्रेस में आ गईं. अलका लाम्बा का एक इतिहास है. यद्यपि निजी इतिहास को पार्टी इतिहास में नहीं लाना चाहिए, मगर जो स्त्री दूसरे नेताओं के विषय में अश्लील कथन करे तो उसका इतिहास खंगाला ही जाएगा. हाल ही में दिल्ली विधानसभा चुनावों के दौरान अलका लाम्बा ने एक लड़के को थप्पड़ मार दिया था. उस लड़के को उन्होंने क्यों थप्पड़ मारा था, उस विषय पर काफी लोग उनके साथ आ गए थे. ख़ास तौर पर स्त्रियाँ! उस लड़के ने उनके बेटे को लेकर टिप्पणी की थी कि वह किसका है, या फिर कुछ ऐसा ही कहा था.

लोगों ने अलका लाम्बा का साथ दिया, मगर अलका लाम्बा जैसी नेता जैसे खुद को प्रासंगिक रखने के लिए कई तरह के नाटक करती रहती हैं. उस समय यदि अधिकांश लोगों ने उनका साथ दिया था, जिसमें मुझ जैसी मोदी भक्त भी सम्मिलित है, उन सभी को अलका लाम्बा की असंस्कारित भाषा से ठेस लगी. ख़ास तौर पर आज जिस तरह से अलका लाम्बा ने पुराना वीडियो ट्विटर पर शेयर किया और लिखा कि

मोदी yogi , मैं तुम्हारे मुंह पर थूकती हूँ, तुम दोनों नपुंसक हो!

– अलका लाम्बा

नपुंसक? यह कैसा शब्द अलका लाम्बा ने प्रयोग किया है? और यह वीडियो इस समय उन्होंने पोस्ट किया जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री दिल्ली और महाराष्ट्र दोनों ही प्रदेशों से भगाए हुए प्रवासी मजदूरों की हर संभव सहायता कर रहे हैं यहाँ तक कि वह नीति भी बना रहे हैं कि कोई भी मजदूर बाहर न जाए. राज्य उनसे पूछे! वह मजदूरों का डेटाबेस तैयार कर रहे हैं. यह नपुंसक उन नरेंद्र मोदी को कह रही है जो विश्व में कोरोना से निबटने में सबसे सफल नेताओं के रूप में उभर रहे हैं.

यह कांग्रेसी अजीब हैं भाजपा की महिला नेताओं को कभी अश्लील तरीके से टार्गेट करते हैं और महिला नेता भाजपा के पुरुष नेताओं के लिए आपात्तिजनक बोल बोलती हैं, शायद यह कांग्रेस के संस्कार हैं, यही कांग्रेस के संस्कार हैं कि अपने विरोधियों के चरित्र हनन तक पर उतर आओ! मगर इस बार शायद अलका लाम्बा ने गलत तो नहीं कह दिया है, क्योंकि उन पर रिपोर्ट दर्ज कराने की भी बात हो रही है. अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता एक तरफ, मगर इस हद तक अश्लील एवं आपत्तिजनक बातें एक तरफ. अब उम्मीद है कि यदि अलका लाम्बा के खिलाफ कोई एफआईआर होती है तो वह महिला होने का रोना नहीं रोएंगी.

आदरणीय पाठकगण,

ज्ञान अनमोल हैं, परंतु उसे आप तक पहुंचाने में लगने वाले समय, शोध, संसाधन और श्रम (S4) का मू्ल्य है। आप मात्र 100₹/माह Subscription Fee देकर इस ज्ञान-यज्ञ में भागीदार बन सकते हैं! धन्यवाद!  

Select Subscription Plan

OR

Make One-time Subscription Payment

Select Subscription Plan

OR

Make One-time Subscription Payment

Other Amount: USD



Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Branch: GR.FL, DCM Building 16, Barakhamba Road, New Delhi- 110001
SWIFT CODE (BIC) : HDFCINBB
Paytm/UPI/Google Pay/ पे / Pay Zap/AmazonPay के लिए - 9312665127
WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9540911078

Sonali Misra

Sonali Misra

सोनाली मिश्रा स्वतंत्र अनुवादक एवं कहानीकार हैं। उनका एक कहानी संग्रह डेसडीमोना मरती नहीं काफी चर्चित रहा है। उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति कलाम पर लिखी गयी पुस्तक द पीपल्स प्रेसिडेंट का हिंदी अनुवाद किया है। साथ ही साथ वे कविताओं के अनुवाद पर भी काम कर रही हैं। सोनाली मिश्रा विभिन्न वेबसाइट्स एवं समाचार पत्रों के लिए स्त्री विषयक समस्याओं पर भी विभिन्न लेख लिखती हैं। आपने आगरा विश्वविद्यालय से अंग्रेजी में परास्नातक किया है और इस समय इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय से कविता के अनुवाद पर शोध कर रही हैं। सोनाली की कहानियाँ दैनिक जागरण, जनसत्ता, कथादेश, परिकथा, निकट आदि पत्रपत्रिकाओं में प्रकाशित हुई हैं।

You may also like...

2 Comments

  1. Avatar Deepak Kumar says:

    शायद अलका जी का व्यक्तिगत अनुभव राहुल गाँधी पर है

  2. Avatar Shikha says:

    ऐसा करके ये स्वयं के लिए अश्लीलता का रास्ता खोल दी

Write a Comment

ताजा खबर