Author: Sonali Misra

0

मोदी सरकार 2.0 का लिटमस टेस्ट! राष्ट्रवाद के सभी मुद्दे पहुंचे अदालत के द्वार!

भाजपा की मोदी सरकार स्पष्ट बहुमत के साथ आई है और जनता की अपेक्षाओं के बोझ के साथ आई है! कुछ मामले हैं जिनपर तत्काल कदम उठाए जाने की आवश्यकता है, नहीं तो जनता...

0

केवल सैनिटरी पैड चढ़ाने के लिए करोड़ों लोगों की आस्था को अपमानित करने का नहीं है किसी को अधिकार!

जब हम लिखते हैं कि लोक आस्था पर प्रहार नहीं होना चाहिए तो कई लोग स्त्री विरोधी बता देते हैं, मेरा आज भी यही मानना है कि लोक परम्परा या लोकपर्व में केवल और...

0

भारतीय महिलाओं में जीजाबाई वाले जज्बे की जरूरत है, न कि तनुश्री जैसा ‘क्रिप्टो-प्रोपोगंडाई’ फितरत की!

आज जब भारतीय स्त्रियों और पुरुषों को लेकर के शिकारी और शिकार की ही कहानी बन गयी है, ऐसे में बहुत जरूरत है कि हम अपनी भारतीय स्त्रियों की कहानियों को सामने लेकर आएं।...

0

एक महिला जिसने महिलाओं के उन ‘पांच दिनों’ के कष्ट को दूर करने के लिए सरकारी नौकरी छोड़ी, शादी नहीं किया और खुद को झोंक दिया!

एक स्वच्छ और बेहतर जीवन सबका अधिकार है! दुनिया की हर स्त्री एक बेहतर और स्वच्छ ज़िन्दगी चाहती है, वह अपने लिए कम से कम स्वच्छता और सामाजिक टैबू से परे एक ज़िन्दगी चाहती...

0

बड़ी बड़ी पार्टियों में छोटे मोटे बलात्कार होते ही रहते हैं!

वामपंथी स्त्री अधिकारों के मुखर समर्थक माने जाते हैं। यहाँ तक कि उन्हें यह तक गवारा नहीं कि परिवार संस्था में स्त्री कुछ भी सहे, पति और पत्नी की बहस में भी वे पत्नी...

0

जिसे तुलसी, सूर का ज्ञान नहीं वह प्रकाशक है! सोचिए हमारी हिंदी के प्रति वह कितनी नफरत से भरी है!

किताबें इंसानों के लिए सबसे बड़ा दोस्त बताई जाती हैं, और हैं भी! जो भी उत्तर नहीं मिल रहा हो, वह आपको झट से किसी न किसी किताब में मिल जाएगा। आज किताबें ऑनलाइन...

0

मी-लार्ड चर्च का इतिहास शुरू से दागदार रहा है! या तो आप अनजान थे, या फिर बनने की कोशिश कर रहे हैं!

चुप्पियों का दौर जारी है! कल उच्चतम न्यायालय ने बहुत ही हैरानी और अचरज से पूछा है कि आखिर पादरियों के द्वारा रेप के मामले क्यों आ रहे हैं? अब सवाल यहाँ पर यह...

0

कांग्रेस की फटी चादर को रफू करेंगी 100 महिला पत्रकार!

कांग्रेस के आईटी सेल में महिलाओं का शोषण हो रहा है, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी ही पार्टी की पीड़िता से नहीं मिल रहे हैं, लेकिन चोरी-चोरी, चुपके-चुपके 100 महिला पत्रकारों से मिलने...

0

बात बात पर देश को नीचा दिखाना मानसिक बीमारी का लक्षण है। और भारत का अभिजात वर्ग इससे बुरी तरह पीड़ित है।

कुछ चरित्र होते हैं, जो हमेशा नकारात्मकता खोजते हैं, हमेशा उन्हें नकारात्मकता चाहिए, जैसे ही कुछ सकारात्मक होता है, ये लोग अपने अपने खोल में चले जाते हैं, और जैसे ही कुछ ऐसा होता...

0

सोशल मीडिया को ट्रोलर की टोली और बैन करने की मांग करने वाले मुख्यधारा के पत्रकार जब 18 डिग्री के वातानुकूलित स्टूडियो में चैनल की टीआरपी के लिए गला फाड़ रहे थे उसी समय ट्विटर के जरिये सोशल मीडिया का एक पहरेदार 25 मासूम लड़कियों को जिस्मफरोशी के दलदल में जाने से बचाने में लगा था!

सोशल मीडिया का इससे बेहतर सदुपयोग नहीं हो सकता जो आदर्श श्रीवास्तव ने किया है! उन्होंने अपने ट्विटर खाते से पहला ट्वीट किया और 25 मासूम लड़कियों के साथ अमानवीय कृत्य होने से बचा...

0

कश्मीर का अतीत! कोटा रानी जिसने इसलामी आक्रमणकारियों से कश्मीर को बचाने के लिए मरते दम तक प्रयास किया!

कश्मीर इन दिनों विवादों में है। रहस्य का आवरण ओढ़े कई कहानियां आज कश्मीर के बहाने हम सब के सामने आ रही हैं। कश्मीर का इतिहास रक्तरंजित के साथ ही इसलामी आक्रमण का वह...

0

रोहित वेमुला की मां राधिका वेमुला ने मुसलिम लीग से किया अपने बेटे का सौदा?

मां तो मां होती है! लेकिन जब वही मां बेटे की लाश का सौदा करने लगे तो आप उस मां को क्या कहेंगे? आपको याद है रोहित वेमुला जिसकी संदिग्ध मौत को आत्महत्या और...

0

शौर्य स्मारक भोपाल: भारत के लिए शहीद हुआ हर एक सैनिक यहाँ कहता है अपनी कहानी!

किसी किसी शहर में कदम रखते ही अपनेपन का अहसास होता है, जैसे कोई है, कुछ है जो आपको खींच रहा है। कोई कहानी है, जो आपको कानों में बात कहने के लिए बुला...

ताजा खबर