Tagged: indian constitution

0

गिरिराज सिंह के बयान पर विवाद खड़ा करने वालो इस तथ्य को कैसे झुठलाओगे कि मुसलिम जनसंख्या विस्फोट की वजह से हिंदू अल्पसंख्यक बनने के मुहाने पर खड़ा है!

धर्म के नाम पर 2047 में एक बार फिर देश के विभाजन होने की आशंका वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बयान पर वामी-कांगी पत्रकारों ने विवाद करना शुरू कर दिया है। गिरिराज सिंह...

0

आम्बेडकर और राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद की आपत्ति के बावजूद जवाहर लाल नेहरू ने पहला संविधान संशोधन कर मीडिया पर लगाया था अंकुश!

जिस प्रकार गांधी परिवार से प्रशिक्षित मीडिया के एक तबके ने भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रमनियन स्वामी पर निशाना साधना शुरू किया है उससे लगता है कि मीडिया का यह वर्ग कृतघ्न...

0

यदि संविधान को तत्काल सौ प्रतिशत लागू नहीं किया तो 20-25 साल के बाद भारत की स्थिति बहुत खतरनाक हो जाएगी; अश्विनी उपाध्याय

साथियो… देश की एकता और अखंडता के लिए देश के संविधान को शत-प्रतिशत लागू करना बहुत जरूरी है, अगर तत्काल संविधान को सौ प्रतिशत लागू नहीं किया तो 20-25 साल के बाद भारत की...

0

अल्पसंख्यकों के नाम पर दोहरी नीति क्यों? दशकों से कई राज्यों में बहुसंख्यक मुसलिमों को मिल रहा अल्पसंख्यकों का लाभ!

देश के जिन आठ प्रांतों में हिंदू अल्पसंख्यक है उनमें लक्ष्यद्वीप, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मिजोरम, मेघालय, मणिपुर, जम्मू-कश्मीर और पंजाब शामिल है।लेकिन इनमें से किसी राज्य में हिंदुओं को अल्पसंख्यक होने का दर्जा नहीं...

0

आठ राज्यों में हिंदुओं को मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा! मुल्ले-मौलवी और पादरी कर रहे हैं विरोध!

देश के जिन आठ राज्यों में हिंदुओं की जनसंख्या कम है वहां उन्हें अल्पसंख्यक का दर्जा मिल सकता है। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग (National minority commission) ने इस संदर्भ में फैसला करने का मन बना...

0

यदि आपके दो से ज्यादा बच्चे हैं तो लग सकता है राजनैतिक जीवन पर विराम!

“जिस नेता के दो से ज्यादा बच्चे हो वह चुनाव न लड़े.” बीजेपी के प्रवक्ता की बात अगर मान ली जाती है, तो फिर कई नेता चुनाव तक नहीं लड़ पाएंगे. दिल्ली बीजेपी के...

0

जब भारत सेक्यूलर है तो मजहबी आधार पर शरिया कानून क्यों?

फरहाना ताज। अभी तीन तलाक पर फैसला आया। बहुत अच्छी बात है। मैं इसका समर्थन करती हूं। नारी जाति के प्रति तीन तलाक कू्रता ही थी। लेकिन इस पर एक बयान आया कि धर्म...

0

उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल में मोदी सरकार का ‘भोजपुरी’ दांव!

उम्मीद है कि उत्तरप्रदेश चुनाव से पूर्व मोदी सरकार भोजपुरी भाषा को संवैधानिक मान्यता प्रदान कर पूर्वी उप्र में एक बड़ा चुनावी दाव खेल सकती है! करोड़ों लोगों की भाषा भोजपुरी को अभी तक...

बाबा साहब अंबेडकर का अधूरा सपना

संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर, सरदार पटेल, श्यामाप्रसाद मुख़र्जी, डाo राजेंद्र प्रसाद, सर्वपल्ली राधाकृष्णन और देश के शहीदों को सबसे बड़ी श्रद्धांजली यह होगी की देश के संविधान को 100% लागू कर दिया जाये!...

ताजा खबर