Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: ramayana

3

अहल्या के मामले में पीड़ित कौन है?

कल दशहरा बीत गया और जैसा जाहिर था कि एक बार फिर राम जी को नीचा दिखाने के कुप्रयास के साथ यह दिवस समाप्त हुआ. यह तय ही था कि आज ही फिर से...

1

रामायण काल में किस प्रकार का आभूषण पहनती थीं महिलाएं!

कंकन किंकिनि नूपुर धुनि सुनि। कहत लखन सन रामु हृदयँ गुनि॥मानहुँ मदन दुंदुभी दीन्ही। मनसा बिस्व बिजय कहँ कीन्ही॥ राम कंगन की ध्वनि सुनकर लक्ष्मण से कह रहे हैं कि मानो कामदेव ने विश्व...

0

राम जी का ‘अयण’ एक पवित्र उद्देश्य पूर्ति के लिए किया गया था!

रामायण का अर्थ होता है, राम का अयण। अयण का अर्थ होता है ‘भ्रमण’। राम जी का संपूर्ण वैश्विक भ्रमण और उससे उपजी घटनाओं ने कालांतर में रामायण का रूप लिया। इस समय भारतवर्ष...

1

प्रेमी और पति राम – II

जानकी के वियोग में राम व्याकुल हैं. उन्हें नहीं ज्ञात है कि कहाँ जा सकती हैं जानकी? और क्या कहेगा समूचा विश्व, क्या मुख लेकर वह वापस अयोध्या जाएंगे? राम के दुःख का कोई...

0

राम ही हैं रखवाले संस्कृति के

कहा जाता है कि भारत में दो ही भाषाएँ बोली जाती हैं। एक है रामायण और एक है महाभारत। रामायण और महाभारत भाषा कैसे हो सकती हैं? यह उस वर्ग का विशेष सवाल रहा...

5

जन कवि तुलसी और विमर्श पोषित दरबारी रहीम

हम लोग बचपन से सुनते चले आए हैं कि यह देश राम और रहीम का देश है। रहीम के दोहे जब हमारी पुस्तकों में पढ़ाए गए तो हम लोगों की जुबां पर चढ़ गए...

0

गांधी-नेहरू का रामायण-महाभारत दृष्टिकोण!

आप सबमें जिसने भी गांधी को ठीक से पढ़ा है, उसने गौर किया होगा कि गांधी ने बड़ी चतुराई से महाभारत को काल्पनिक कह उससे गीता निकाल लिया, और राम-रावण युद्ध को काल्पनिक कह...

2

घनघोर अंधकार की रात में रामायण हमारे लिए एक दीप की भांति प्रज्जवलित है

रामानंद सागर की ‘रामायण‘ जब कोरोना काल में पुनः प्रसारित हुई तो उसने जनमानस को इस खतरनाक वायरस से लड़ने का संबल दिया। राम और सीता के अनुपम निश्छल चरित्र को देख लोग रो...

1

रामायण की दिव्यता के आगे पराजित हुआ मनोरंजन जगत

नॉस्टॉल्जिक का शाब्दिक अर्थ उदासीन, खिन्न और अतीत की याद होता है। मुझे nostalgia के ये अर्थ उपयुक्त नहीं लगते। मेरे अनुसार इसका अर्थ   ‘अतीताघात’ होना चाहिए। ये एक मीठा आघात होता है।...

0

नेशनल टीवी पर फिर जगा रामानंद सागर की रामायण का भक्ति भाव!

एक ऐसे समय में जब न सिर्फ भारत बल्कि संपूर्ण विश्व कोरोना वायरस के कहर से जूझ रहा है, इस सब से हमें एक आवश्यक सीख भी मिल रही है. और वह यह है...

0

हम हैं राम के रक्तबीज!

विपुल विजय रेगे। सेतुसमुद्रम नौवहन नहर परियोजना को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को छह सप्ताह का समय दिया है। शीर्ष अदालत ने कहा है कि तय वक्त के भीतर सरकार को राम...

ताजा खबर