Watch ISD Videos Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: Kahani Communiston Ki

2

मार्क्सवाद का अर्धसत्य: वामपंथी पाखंड पर करारा प्रहार!

वामपंथी महिलाएं अब ‘एक समान शौचालय’ के अधिकार को लेकर उतर पड़ी है सड़क पर! वामपंथी किस रास्ते समाज को लेकर ले जाना चाहते हैं, आप इनके ‘किस-डे’, ‘हग-डे’, समलैंगिक अधिकार, बेडरूम में अन्य...

0

मैं, मेरा बचपन और शास्त्रीजी!

शास्त्री जयंती पर विशेष। मैं, मेरा बचपन और लालबहदुर शास्त्रीजी! मैं तब आठवीं में था। सरकारी छात्रवृत्ति के कारण पटना से निकल कर उदयपुर के विद्याभवन स्कूल में पढ़ने पहुंचा था। मेरे जीवन में...

0

जब लेखक को लोग भूल जाएं और कृति को याद रखें तब कोई किताब रचती है एक इतिहास!

इंडिया स्पीक्स डेली के प्रधानसंपादक और लेखक संदीप देव एक खोजी पत्रकार रहे हैं! उन्होंने भारत के कम्युनिस्टों के शुरूआती दौर के इतिहास पर ‘कहानी कम्युनिस्टों की’ के नाम से प्रथम खंड लिखा है!...

0

9 अगस्त की क्रांति, कम्युनिस्टों का देशद्रोह और नेहरू की अंग्रेज भक्ति!

आज 9 अगस्त है। आज ही के दिन 1942 में महात्मा गांधी ने ‘अंग्रेजों भारत छोड़ो’ को क्रियान्वित किया था। आज राहुल गांधी की कांग्रेस पार्टी जिस कम्युनिस्ट पार्टी के साथ सांठगांठ कर सत्ता...

0

मजदूर दिवसः कम्युनिस्टों की तानाशाही स्थापना का बस एक उपकरण था मई दिवस!

आज पहली मई है। पहली मई को पूरी दुनिया के मजदूर इसे ‘मजदूर दिवस’ या ‘मई दिवस’ के रूप में मनाते हैं। इसकी शुरुआत एक यूटोपिया समाज की रचना को लेकर हुआ था, जिसकी...

0

नेहरू युग का आधार गांधी जी का ग्राम स्वराज नहीं, बल्कि रूसी समाजवाद था।

सुमंत विद्वांस। मैं अगर कहूं कि भारत के प्रथम प्रधानमंत्री नेहरूजी थे, तो आप अवश्य ही मुझसे सहमत होंगे। मैं अगर कहूं कि वे कांग्रेस के नेता थे, तो भी आप मुझसे अवश्य ही...

0

वामपंथी पाखंड के उदाहरण!

IndiaSpeaksDaily के प्रधान संपादक और कहानी कम्युनिस्टों के लेखक संदीप देव ने भारत में वामपंथ के चेहरे चाल और चरित्र को आप तक पहुँचाने हेतु फेसबुक के माध्यम से हर रात रात दस बजे...

0

कहानी कम्युनिस्टों के जरिये कम्युनिस्टों की काली करतूत और राज-योगी के जरिये नाथपंथ का उज्जवल इतिहास बताना जरूरी था!

1)#कहानीकम्युनिस्टोंकी मांग अंग्रेजी में बढ़ रही है! अंग्रेजी पत्रिका भी अब इसका रिव्यू छाप रही हैं। अंग्रेजी पत्रिका DayAfter के पत्रकार असित मनोहर की समीक्षा देखकर लग रहा है कि उन्होंने बेहद बारीकी से...

0

यूरोपीय मन से एक ‘राष्ट्र’ के रूप में भारत को कभी नहीं समझा जा सकता! भारत एक राष्ट्र था, है, और सदा रहेगा!

आप सब एनडीटीवी देखते हैं। आप देखते होंगे कि एनडीटीवी के प्राइम टाइम एंकर रवीश कुमार बहुत चिढ़, कुढ़न और व्यंग्य से राष्ट्र और राष्ट्रवादियों पर हमला करते हैं! फ्रांस में यदि एक राष्ट्रवादी...

0

पीएम मोदी ने यूरोप दौरे से पहले चली जबरदस्त चाल!

कल पीएम मोदी की अध्यक्षता में मंत्रीमंडल ने 10 स्वदेशी परमाणु रिएक्टरों के निर्माण को मंजूरी दी। ‘मेक इन इंडिया’ के तहत बनने वाली प्रत्येक रिएक्टर की क्षमता 700 मेगावाट बिजली पैदा करने की...

0

भारत में आयातित वामपंथ के काले इतिहास पर से पर्दा उठाती किताब का नाम है ‘कहानी कम्युनिस्टों की’

आनंद कुमार। दुनिया के जघन्यतम अपराध क्रांतियों की आड़ लेकर हुए हैं। विश्व युद्धों की जड़ में कहीं ना कहीं क्रांति की आड़ में छुपे बैठे ऐसे ही भेड़िये थे जिन्होंने भेड़ की खाल...

0

विचारधारा से कम्युनिस्ट पंडित नेहरू ने स्टालिन को खुश करने के लिए अमेरिका द्वारा भारत को परमाणु बम दिए जाने का किया था विरोध!

शैलेश भारद्वाज। किताब के शीर्षक से ही आप समझ गए होंगे की इसमें कम्युनिस्टों की कहानी है। ऐसे कम्युनिस्टों की कहानी जिसने प्रत्यक्ष रूप से कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़े थे, इससे भी महत्वपूर्ण है,...

0

CIA की रिपोर्ट से खुलासा; नेहरू- इंदिरा कार्यकाल को सोवियत संघ चला रहा था!

अमेरिकन खुफिया एजेंसी CIA द्वारा वर्तमान में जारी दस्तावेज में कहा गया है कि सोवियत संघ कांग्रेस पार्टी व नेताओं सहित, इंदिरा गांधी मंत्रीमंडल के 40 फीसदी मंत्रियों को फंडिंग करती थी। इसके अलावा...

0

मि. राजकमल झा, इंडियन एक्सप्रेस कांग्रेस हित में खुल कर कर रहा है बौद्धिक बेईमानी!

अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA ने जो डिक्लासिफाइड डक्यूमेंट जारी किया है। आपने नोट किया कि इंडियन एक्सप्रेस ने केवल कांग्रेस के हित में सेलेक्टिव डक्यूमेंट पर राजीव गांधी को हाइड्रोजन बम की थिंकिंग रखने...

0

नेताजी के खिलाफ जवाहरलाल नेहरू द्वारा फैलाये झूठ की रामनोहर लोहिया ने धज्जियां उड़ा दी थी।

कल DDNewsLive पर अशोक श्रीवास्तव के ‘दो टूक’ कार्यक्रम पर आपने देखा कि CPI के कार्ड होल्डर मेंबर और जेएनयू के प्रोफेसर ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को लेकर कैसे झूठ बोला कि 1939...

0

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के सार्थक प्रयासों को अपने कुतर्कों से बदनाम करते रहे सीपीआई के महासचिव पी सी जोशी !

आज नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती है। पुस्तक ‘कहानी कम्युनिस्टों की’ में नेताजी पर एक लंबा खंड है। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) नेताजी से नफरत करती थी और उनके खिलाफ घृणा का प्रचार करती...

0

NSG में भारत के प्रवेश पर वीटो पावर लगाने वाले चीन को यूनाइटेड नेशन में एंट्री दिलाने में थी जवाहरलाल नेहरू की भूमिका!

NSG में भारत के प्रवेश पर विरोध स्वरुप वीटो पावर का प्रयोग करने वाले चीन को सयुंक्त राष्ट्र (यूनाइटेड नेशन) में एंट्री दिलाने में जवाहरलाल नेहरू की भूमिका महती रही है। संदीप देव की...

0

जवाहरलाल नेहरू की मित्र एडबीना माउंटबेटन केजीबी की एजेंट थी-डॉ सुब्रहमनियन स्वामी

राज्यसभा सांसद डाॅ सुब्रहमनियन स्वामी ने कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरू वैचारिक रूप से एक कम्युनिस्ट थे, जो सोवियत संघ की खुफिया एजेंसी केजीबी के एजेंटों से घिरे रहते थे। यहां तक कि लाॅर्ड...

ताजा खबर